रबी उपार्जन वर्ष 2020–21 में गेहूं उपार्जन के लिये किसानों के पंजीयन के लिए अंतिम दिन 28 फरवरी है। किसान भाई गेहूं उपार्जन हेतु कृषको के नवीन पंजीयन 28 फरवरी को करवा सकेगे। पूर्व में किसानों द्वारा कराया गया पंजीयन इस वर्ष मान्य नहीं होगा। किसानों को नये पंजीयन करवाना अनिवार्य है। रबी उपार्जन वर्ष 2020 – 21 में नवीन पंजीयन हेतु किसान को आधार नम्बर, समग्र परिवार आईडी, स्वयं का मोबाईल नंबर, राष्ट्रीयकृत बैक अथवा अधिसूचित बैक में स्वयं का एकल खाता नम्बर, बैंक शाखा का नाम, आईएफसी कोड सहित, पासबुक की छायाप्रति संयुक्त खाता मान्य नही ऋण पुस्तिका, खसरा, वनाधिकार पट्टा, पंजीयन फार्म के साथ प्रस्तुत करना अनिवार्य है। साथ ही भूमि स्वयं के नाम पर न होने पर भूमि स्वामी के साथ निर्धारित प्रारूप में सिकमी, बटाई के अनुबंध की प्रति अनिवार्य है। अतः रबी विपणन वर्ष 2020-21 में समर्थन मूल्य पर गेहूं विकय हेतु किसान अपने नजदीकी खरीदी केन्द्र पर जाकर खरीदी केन्द्र से पंजीयन फार्म निःशुल्क प्राप्त कर अपना पंजीयन निर्धारित समयावधि में करायें। गेहूं का समर्थन मूल्य प्रति क्विंटल 1925 रुपया नियत किया गया है। सभी किसान इसका लाभ प्राप्त करने के लिए गेहूं उपार्जन पंजीयन जल्द से जल्द करवाएं। रबी उपार्जन वर्ष 2020– 21 में गेहूं उपार्जन के लिये एक फरवरी से प्रारंभ हो गए है। नवीन पंजीयन का कार्य नीमच जिले के पंजीयन केन्द्रों पर जारी है। किसान बन्धुओं से अनुरोध है कि वह अपने क्षेत्र के गेहू पंजीयन केन्द्र पर अपना पंजीयन प्रातः 10 बजे से सायं 5 बजे तक निर्धारित दिवसो में जाकर 28 फरवरी 2020 तक अनिवार्य रूप से करवा ले।