भोपाल| मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में टिड्डी दल के हमले से कई जिलों में नुकसान हुआ है| फसलों को हो रहे नुकसान का राज्य सरकार सर्वेक्षण कराएगी। इसके लिए राजस्व और कृषि विभाग का संयुक्त दल बनाकर सर्वे कराया जाएगा। जिन किसानों को अधिक नुकसान हुआ है, उन्हें राजस्व पुस्तक परिपत्र (आरबीसी 6-4) के तहत मुआवजा दिलाया जाएगा।

किसान कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री कमल पटेल (Kamal Patel) ने आज हरदा जिले के मसनगांव में ‍टिड्डी दल से प्रभावित खेतों का निरीक्षण किया। मंत्री श्री पटेल ने कहा कि सरकार और जिला प्रशासन द्वारा की गई त्वरित कार्यवाही से किसानों को अपेक्षाकृत कम नुकसान हुआ है । मंत्री श्री पटेल ने बताया कि टिड्डी दल के प्रकोप के कारण किसानों को होने वाले नुकसान का सर्वेक्षण कराया जाएगा । सर्वेक्षण का कार्य राजस्व विभाग और कृषि विभाग के अमले का संयुक्त दल बनाकर कराया जाएगा। उन्होंने बताया कि जिन किसानों को अधिक मात्रा में नुकसान हुआ है उन्हें आरबीसी 6 (4 )के अंतर्गत मुआवजा देकर क्षतिपूर्ति की जाएगी । मंत्री श्री पटेल ने बताया कि राज्य स्तर से इसके लिए आवश्यक निर्देश जारी किए जाएंगे।

प्रदेश में राजस्थान से आए टिड्डी दल ने आगर-मालवा, उज्जैन, शाजापुर, देवास, सीहोर सहित अन्य जिलों में खेतों में हमला कर फसलों को बड़ा नुकसान पहुंचाया है। इसकी रोकथाम के लिए कृषि विभाग कीटनाशक का छिड़काव करवा रहा है।