मक्का के भावो में आ सकती हे बड़ी तेजी 
23-07-2021
दीपावली में नए मक्के बिक जायेंगे 2600/2700/ हाजिर माल की शॉर्टेज दिवाली पर नए मक्के की बड़ी रहेगी मांग हाजिर 20 परसेंट दागी डैमेज के मक्के 17 सो रुपए घर घर बिक रहे हैं यदि इनकी क्लेम कटौती  मक्के फिल्टर सीजन के माल ₹2200/ घर सभी मक्के उत्पादन की मंडियों में बिक जाएगा लगातार नए मक्के की मांग आने वाले समय में बड़ी मात्रा में बने सोयाबीन डिओसी की कीमतें बढ़ने के कारण पशु चारा मुर्गियों उद्योग कारखाने सभी लोग मक्के का भोजन पशु मुर्गी चूजा हैचरी पशु पालन मछली उद्योग में चारे में ज्यादा उपयोग कर रहे हैं सोयाबीन डिओसी से मिलने वाले प्रोटीन की कीमत लगातार बढ़ती जा रही है और इस वर्ष सोयाबीन डिओसी 7500 बिक जाएगी इसके अनुपात c-doc पशु चारे उद्योग में मक्के की खपत अधिक होगी


मध्य प्रदेश मानसून-
5 जिलों में सूखा तय, 28 में सूखे के हालात
22/07/2021
मध्य प्रदेश के 5 जिलों पन्ना, छतरपुर, टीकमगढ़, दतिया और दमोह में सूखा पड़ना लगभग सुनिश्चित हो गया है। अब तक यहां 50% से कम बारिश हुई है। कुछ इलाकों में 30% से कम बारिश हुई है। सावन का महीना शुरू होने वाला है,और मौसम विशेषज्ञों के पूर्वानुमान गलत साबित हो रहे हैं और ज्योतिष के अनुसार सावन के महीने में सिर्फ 4 दिन अच्छी वर्षा होगी। 
28 जिलों में वर्षा को तरस रहे लोग, सूखे के हालात 
मध्य प्रदेश के 28 जिलो, भिंड,ग्वालियर,श्योपुर, शिवपुरी, अशोकनगर, गुना, सागर, राजगढ़,शाजापुर, आगर मालवा, मंदसौर, उज्जैन, इंदौर, धार, आलीराजपुर, बड़वानी, खरगोन, खंडवा, हरदा, होशंगाबाद, सिवनी, बालाघाट, डिंडोरी,अनूपपुर, उमरिया, जबलपुर,कटनी और सतना में सूखे के हालात उत्पन्न हो गए हैं। लोग वर्षा के लिए तरस रहे हैं। इन जिलों में 50% से लेकर 80% तक वर्षा हुई है।
मध्य प्रदेश मौसम- सिर्फ 4 जिलों में हालात संतोषजनक 
मध्य प्रदेश के सिर्फ 4 जिले ऐसे हैं,जहां हालात संतोषजनक हैं।टॉप पर सिंगरौली जिले का नाम है जहां सामान्य से 45% अधिक वर्षा हो चुकी है। भोपाल, नरसिंहपुर और रायसेन में भी सामान्य से 20% अधिक वर्षा हो चुकी है परंतु मौसम सभी जिलों का खराब है।
-------------------------------
ट्रेक्टर खरीदने पर केंद्र सरकार देगी 50 प्रतिशत सब्सिडी
19/07/2021
केंद्र सरकार ने किसानों को ट्रैक्टर खरीदने पर सब्सिडी देने की योजना शुरू की है। इसको पीएम किसान ट्रैक्टर योजना का नाम दिया गया है। सरकार किसानों को आधे दाम पर ट्रैक्टर मुहैया कराएगी। किसान किसी भी कंपनी का ट्रैक्टर आधे दाम पर खरीद सकते हैं। इसके लिए किसान के पास आधार कार्ड, जमीन के कागज, बैंक डिटेल, पासपोर्ट साइज फोटो होनी चाहिए। किसान किसी भी नजदीकी CSC सेंटर पर जाकर ऑनलाइन अप्लाई कर सकते हैं।
प्रधानमंत्री ट्रैक्टर योजना  में सीधे लाभ उन किसानो को होगा जिनके पास ट्रेक्टर नहीं है और वो इन मशीनो का उपयोग कर अपनी आय में वृद्धि करना चाहते है।
Kisan Tractor Yojana में आवेदन करने पर 20 से 50 प्रतिशत की सब्सिडी सीधे बैंक खाते में आवेदक को प्रदान की जाएगी। यहाँ ध्यान देने वाली बात ये है की बैंक खाता आधार कार्ड से जरूर जुड़ा हो।
महिला आवेदक करता होने पर लाभ अधिक दिया जायेगा। किसान आवेदन पास होने के तुरंत बाद ट्रेक्टर ले सकते है।
PM Kisan Tractor Yojana आवेदन की स्वीकृति के बाद आप उसके साथ के औजारों के लिए भी आवेदन कर सकते है उन औजारों पर भी सब्सिडी देने का प्रावधान कुछ राज्यों ने किया है।
योजना में किसानो को ट्रेक्टर खरीदने के लिए लोन की सुविधा प्रदान की जाती है। बाकि पैसा किसान लोन के जरिये चुकता कर सकते है।
योजना पूरी तरह राज्यों पर निर्भर है क्योंकि केंद्र सरकार द्वारा दी जाने वाली सब्सिडी का 50% राज्य सरकार द्वारा दिया जाता है मध्य प्रदेश के किन क्षेत्रों में किन गांव में यह योजना लागू हुई है इसकी जानकारी किसान कल्याण तथा कृषि विकास एवं उद्यानिक एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग से ली जा सकती है ।
-----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
मसूर अपडेट 
19/07/2021
  •  मसूर का उत्पादन इस बार कम होने से मंडियों में आवक पूरी तरह समाप्त हो गई है।
  • लेकिन स्टॉक सीमा की दहशत से चौतरफा ट्रेडर्स अपना माल बहुत मंदे भाव में बेचने लगे है।
  • क्योकि सरकार तो उस माल को जब्त कर लेती है और बदले में कुछ नहीं मिलता।
  • लेकिन बाहर जो भी दाम मिल रहा है उसमे बेच रहे है न मिलने से अच्छा कुछ तो मिल जाए।
  • जबतक स्टॉक लिमिट के अंडर में सबका माल नहीं पहुंच जाता तबतक बिकवाली होती रहेगी और दबाव बना रहेगा।
सलाह :- मसूर में स्टॉक को होल्ड रखना चाहिए क्योकि यह दबाव सिर्फ तबतक है जबतक सबके पास लिमिट के दायरे में सबका माल नहीं आ जाता और ऐसा होने में थोड़ा वक़्त तो लगेगा लेकिन जब सबके पास लिमिट में स्टॉक हो जाएगा मंडियों में तेजी का एक अलग ही माहौल बनता हुआ दिख जाएगा।
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------