पशुओं को सर्दी से बचाने के प्रमुख टिप्स

⚫ पशुओं का सुबह की सर्दी से बचाव करें।

⚫ पशुओं को ठंडी हवा, धुंध, पाला, बर्षा आदि से बचाएं।

⚫ सर्दी में पशु के रहन-सहन, आहार और आवास की अच्छी व्यवस्था करें।

⚫ दरवाजे, खिड़कियों और खुले स्थान पर रात में बोरी, त्रिपाल, टाट, बांधें।

⚫ अधिक ठंडी हवा, सर्दी होने पर अलाव जलाकर पशु को सर्दी से बचा सकते हैं।

⚫ रात के समय पशु शाला में पराली या भूसा का बिछावन करें।

⚫ फर्श ढलानदार होने से मूत्र बहकर चला जाएगा, जिससे बिछावन गीला नहीं होगा।

⚫ पशु को दिन के समय धूप में रखें। जिससे पशु स्वस्थ और पशु शाला सूखी रहेगी।

⚫ पशुओं को स्वच्छ और ताजा पानी दें।

⚫ नवजात पशु और बीमार पशु को रात के समय ढक दें, सुबह धूप में खोल दें।

⚫ पशु को हरे चारे के साथ सूखा चारा और भूसा मिलाकर खिलाएं।

⚫ सर्दी में आहार में बाजरा की मात्रा 15-20% ही रखें।

⚫ दुधारू पशुओं को अधिक मात्रा में बिनौले खिलाएं, बिनौले की मात्रा बढ़ा सकते हैं।

⚫ बिनौले से दूध में फैट बढ़ता है।

⚫ सैंधा नमक का ढेला रख सकते हैं, जिससे पशु आसानी से चाट सकें।